1617 की चित्रकारी में फ़िलिप तृतीय

स्पेन के फ़िलिप तृतीय (स्पेनी: Felipe, 14 अप्रैल 1578 - 31 मार्च 1621) स्पेन के राजा थे। वह फ़िलिप द्वितीय के रूप में पुर्तगाल, नेपल्स, सिसिली और सार्डिनिया के राजा और 1598 से 1621 में अपनी मृत्यु तक मिलान के ड्यूक थे।

हैब्सबर्ग राजवंश के एक सदस्य के रूप में फ़िलिप तृतीय का जन्म मैड्रिड में स्पेन के राजा फ़िलिप द्वितीय और उनकी चौथी पत्नी और भतीजी ऐना के यहाँ हुआ था। ऐना पवित्र रोमन सम्राट मैक्सिमिलियन द्वितीय और स्पेन की मारिया की बेटी थी। फ़िलिप तृतीय ने बाद में ऑस्ट्रिया की मार्गरेट, पवित्र रोमन सम्राट फर्डिनेंड द्वितीय की बहन से शादी की।[1]

विदेश में फ़िलिप की राजनीतिक प्रतिष्ठा काफी हद तक नकारात्मक रही है। विशेष रूप से, फ़िलिप के अपने भ्रष्ट मुख्यमंत्री, ड्यूक ऑफ लेर्मा पर निर्भरता ने उस समय और उसके बाद उनकी बहुत आलोचना की। कई लोगों के लिए, स्पेन के पतन को उन आर्थिक कठिनाइयों का परिणाम माना जाता है जो उनके शासनकाल के शुरुआती वर्षों के दौरान हुई थीं। बहरहाल, स्पेनिश साम्राज्य के ऊंचाई पर शासक के होने पे, उन्होंने नीदरलैंड (1609-1621) के साथ अस्थायी शांति हासिल की और स्पेन को तीसवर्षीय युद्ध (1618-1648) के आरंभिक बेहद सफल अभियान में ले जाया। इसलिये स्पेनिश इतिहास में फ़िलिप का शासनकाल एक महत्वपूर्ण अवधि है।

सन्दर्भ

  1. Sánchez, p.91.

सन्दर्भसूची

  • Sánchez, Magdalena S. and Alain Saint-Saëns (eds). Spanish women in the golden age: images and realities. Greenwood Publishing Group. (1996)