एक मैगलेव शंघाई पुडोंग एयरपोर्ट से निकलती हुई।

शंघाई मैग्लेव, जिसे शंघाई ट्रान्सरैपिड (चीनी भाषा में: 上海磁浮示范运营线) के नाम से भी जाना जाता है, चीन की सबसे तीव्र गति ट्रेन प्रणाली है। यह वर्तमान में दुनिया में सबसे तेज़ कार्यरत ट्रेन प्रणाली भी है, और दुनिया कि इकलौती कार्यशील ट्रेन है जो चुंबक द्वारा पटरी से उपर उठ कर उन्ही चुंबकों द्वारा ४३० किमी/घण्टे तक की गति हासिल करती है।[1] चूंकि यह चुंबकीय निलंबन तकनीक का उपयोग करती है, इसलिए इसका नाम शंघाई मैग्लेव है। इसे २००३ में शुरु किया गया था।[1] यह शंघाई पुडोंग अंतरराष्ट्रीय एयरपोर्ट से लेकर शंघाई के वित्तीय जिले के बाहरी भाग के बीच चलती है।[1] इसकी सुविधाओं को अच्छा माना जाता है।[2]

निर्माण

इसे चीन सरकार और जर्मनी ने संयुक्त रूप से मिल कर बनाया है। इसे बनाने में लगभग $ १,४००,०००,००० की लागत आई थी। [1][3]

ये दो समानान्तर लाइनों पर चलती है जोकि पुडोंग अंतरराष्ट्रीय एयरपोर्ट से लेकर शंघाई के वित्तीय क्षेत्र के बाहरी इलाके तक जाती है।[4] प्र्त्येक ट्रेन एक बार में ५७४ लोगों को लाती और ले जाती है।

चीन सरकार, बीजिंग से शंघाई तक एक नयी लाइन भी बिछा रही है।

उपलब्धियाँ और कीर्तिमान

चीन की यह सबसे तेज़ गति वाली ट्रेन, १८ मील कि दूरी मात्र ७ मिनट और २० सेकेंड में पूरी कर लेती है।[4][5]

यह वर्तमान में दुनिया में सबसे तेज़ चालू परिचालन ट्रेन है जो ४३३ किमी/घंटा तक की अधिकतम गति हासिल करती है।[6]

यह दुनिया कि अकेली चालू ट्रेन है जो चुंबक द्वारा पटरी से उपर उठ कर उन्ही चुंबकों द्वारा ४३० किमी/घंटा तक की गति हासिल करती है।[1] इस तकनीक को लीनियर प्रोप्ल्सन कहते हैं।

चीन सरकार की इसके ट्रैक की लंबाई ३२ किमी बढ़ाने की योजना है, पुडोंग एयरपोर्ट से लेकर एक भीतरी एयरपोर्ट तक।[1]

एसएमटी तथ्य:[7]
तथ्य आंकड़े
प्रारंभ दिनांक: 31 दिसंबर, 2002
कुल लंबाई: 30 किलोमीटर (19 मील)
उच्चतम गति: 430 किमी / घंटा (267 मील / घंटा)
प्रति यात्रा अवधि: 8 मिनट
आवृत्ति: 15-20 मिनट
मार्ग: लोंगयांग रोड - पुडोंग अंतर्राष्ट्रीय हवाई अड्डा (पीवीजी)

दीर्घा

इन्हे भी देखें