कैटरीना कैफ़
225
2016 में कैटरीना कैफ़
जन्म 16 जुलाई 1984 (1984-07-16) (आयु 34)
ब्रितानी हांगकांग
राष्ट्रीयता ब्रितानी
जातीयता कश्मीरी, अंग्रेज़
व्यवसाय अभिनेत्री, मॉडल
संबंधी इसाबेल कैफ़ (बहन)

कैटरीना कैफ़ (जन्म: 16 जुलाई 1983) एक ब्रितानी भारतीय अभिनेत्री और मॉडल हैं जो मुख्य रूप से हिंदी फिल्म जगत में काम करती हैं, हालांकि उन्होनें कुछ तेलुगू और मलयालम फिल्मों में भी काम किया है। भारत की सबसे अधिक पारिश्रमिक पाने वाली अभिनेत्रियों में से एक होने के साथ-साथ, कैटरीना को सबसे आकर्षक हस्तियों में से एक के रूप में मीडिया में उद्धृत किया जाता है।

एक सफल मॉडलिंग कैरियर के बाद, 2003 में कैटरीना ने व्यावसायिक रूप से असफल फ़िल्म बूम में एक भूमिका के साथ अपने अभिनय करियर की शुरुआत की थी। फलस्वरूप वह एक तेलुगू हिट फिल्म, रोमांटिक कॉमेडी मल्लीस्वारी में दिखाई दी। कैफ ने बाद में रोमांटिक कॉमेडी मैंने प्यार क्यूँ किया और नमस्ते लंदन के साथ बॉलीवुड में व्यावसायिक सफलता अर्जित की, जिनमें से बाद वाली के लिये उनके अभिनय की प्रशंसा हुई। इसके बाद उनकी कुछ और सफल फ़िल्में आईं जैसे पार्टनर, वेलकम, सिंह इज़ किंग

2009 में आई फ़िल्म न्यू यॉर्क जिसके लिये उन्हें फिल्मफेयर में सर्वश्रेष्ठ अभिनेत्री पुरस्कार का नामांकन मिला, ने उनके करियर को नया मोड़ दिया। वह बाद में राजनीति, ज़िंदगी न मिलेगी दोबारा, मेरे ब्रदर की दुल्हन और एक था टाइगर जैसी हिट फिल्मों में और अधिक प्रमुख भूमिकाओं में दिखीं। वो धूम 3 में संक्षिप्त भूमिका में दिखीं जिसने भारतीय फ़िल्मों में सबसे ज़्यादा कमाई की थी। अपने अभिनय कौशल के लिए समीक्षकों से मिश्रित समीक्षाएँ प्राप्त करने के बावजूद, उन्होनें अपने आप को हिंदी फिल्मों में व्यावसायिक रूप से एक सफल अभिनेत्री के रूप में स्थापित किया है।

अभिनय के अलावा, कैटरीना स्टेज शो और अवार्ड कार्यक्रमों में भाग लेती हैं। वह विशेष रूप से अपने निजी जीवन के बारे में संरक्षित रहने के लिए जानी जाती हैं, जो व्यापक रूप से मीडिया जांच का विषय रहा हैं।

प्रारंभिक जीवन और पृष्ठभूमि

कैटरीना एक अवॉर्ड कार्यक्रम में अपनी माँ के साथ (2012)।

कैटरीना कैफ़ का जन्म १६ जुलाई 1984 को हॉन्ग कॉन्ग में, तुरकोट्टे कुल नाम के साथ हुआ था।[1][2][3][4][5][6] कैटरीना के मुताबिक, उनके पिता मौहम्मद कैफ़ ब्रितानी करोबारी हैं जिनके पूर्वज कश्मीर से आयें थे और उनकी माँ अंग्रेज़ वकील और दान कार्यकर्ता है।[7][8][9][10] इनके सात भाई-बहन हैं-तीन बड़ी बहन (स्टेफ़नी, क्रिस्टीन और नताशा), तीन छोटी बहन (मेलिस्सा, सोनिया और इसाबेल) और एक बड़ा भाई जिसका नाम माइकल है।[11] कैटरीना जब बहुत छोटी थी तभी उनके माता-पिता का तलाक हो गया था और उनके माता पिता अलग हो गए थे।[5][12] कैटरीना और उनके भाई-बहन को उनकी माँ ने ही पाला और पढ़ाया।[13]

कैटरीना की माँ सामाजिक कल्याण संस्थानों से जुड़ी हुई थीं जिसके कारण उन्हें कई देशों में जाना पड़ता था।[5] कैटरीना के जन्म के बाद, उनका परिवार कुछ दिन चीन में रहा फिर जापान में। वहाँ से फ्रांस जब वो आठ साल की थी, फिर वो कुछ-कुछ महीनों के लिये कभी स्विट्जरलैंड तो कभी पोलैंड तो कभी बेल्जियम और अन्य यूरोपीय देश में रहे।[14] बाद में वो अपने परिवार के साथ हवाई में रहीं जहाँ उनका पालन पोषण हुआ और अंत में अपनी माँ के स्वदेश इंग्लैंड[15] वहाँ पर ३ साल रहने के बाद वो भारत आ गईं और अपना कुल नाम अपने पापा का कर लिया क्योंकि उन्हें लगता था की भारतीय उनकी माँ का नाम ढंग से बोल नहीं पाएँगे।[1] ब्रिटिश नागरिक के रूप में, वह एक रोजगार वीज़ा पर भारत में काम करती है।[16]

करियर

मॉडलिंग और फ़िल्म करियर की शुरुआत (2003 तक)

कैटरीना ने चौदह वर्ष की उम्र में हवाई में एक सौंदर्य प्रतियोगिता जीती थी तभी से वो मॉडलिंग कर रही हैं।[5] बाद में उन्हें मॉडल के रूप में अपना पहला काम मिला, एक ज्वेलरी कम्पनी का विज्ञापन। फिर वे लंदन में पेशेवर मॉडलिंग करने लगी जहाँ उन्होंने कई स्वतंत्र मॉडल एजेंसियों के लिये काम किया। यहीं पर एक फैशन शो में फ़िल्म निर्माता कैजाद गुस्ताद की नज़र उन पर पड़ी जिन्होनें उन्हें अपनी फ़िल्म बूम में एक किरदार का प्रस्ताव दिया जो टिकट खिड़की पर ओंधे मुँह गिरी।[6] भारत में शूटिंग के दौरान उन्हें अन्य कई प्रस्ताव मिलने लगे तो उन्होनें भारत में ही रहने का फैसला किया। वह जल्द ही एक सफल मॉडल बन गयी और उन्होनें कई प्रमुख कम्पनियों के विज्ञापन किए जैसे कोका कोला, एलजी, फेवीकोल और सैमसंग। लेकिन फिल्म निर्माता भाषाई कमियों के कारण उन्हें काम देने में हिचकते थे।[17][18] इसके बाद उन्होने हिन्दी कक्षाओं के माध्यम से अपनी हिंदी सुधारने पर काम करना शुरू किया।[19]

शुरुआती सफलता (2004-2006)

अपनी पहली फ़िल्म की असफलता के बाद उन्होनें मल्लीस्वारी नामक एक तेलुगू फ़िल्म करी। इस फ़िल्म के लिए उन्हें कथित तौर भारतीय रुपया७५ लाख मिले जो उस समय दक्षिण फ़िल्म उद्योग में किसी अभीनेत्री को मिला सबसे ज़्यादा मेहनताना था। अपने अभिनय के लिये उन्हें नकारात्मक समीक्षा मिली, हालांकि फ़िल्म आर्थिक रूप से सफल रही।[20][21]

अगले साल वो राम गोपाल वर्मा की फ़िल्म सरकार में अभिषेक बच्चन की प्रेमिका बनी, जो काफ़ी छोटा रोल था।[22] उसके बाद वो हिंदी फ़िल्मों में पहली बार किसी मुख्य भूमिका में डेविड धवन की मैंने प्यार क्यूँ किया में दिखी, जिसमें उनके साथ सलमान खान, सुहेल ख़ान और सुष्मिता सेन भी प्रमुख भूमिकाओं में थे।[23] फ़िल्म सफल रही और कैटरीना को फ़िल्म उद्योग में पहचान मिली।[24] इसके बाद वो तेलुगू फ़िल्म अल्लरी पिदुगू में एक छोटी सी भूमिका में दिखी।[25]

२००६ में कैटरीना की जोड़ी अक्षय कुमार के साथ हमको दीवाना कर गये में बनाई गई जो आगे जाकर काफ़ी सफल रही। हालांकि फ़िल्म को टिकट खिड़की पर उत्साहहीन प्रतिक्रिया मिली पर कैटरीना के अभिनय को समीक्षकों ने सराहा।[26] फिर वो बलराम बनाम तारादास नामक मलयालम फ़िल्म में दिखी जो आर्थिक रूप से सफल रही और उनके अभिनय को सराहा गया।[27]

नमस्ते लंदन और व्यावसायिक सफलता (2007-2008)

२००७ कैटरीना के लिए काफ़ी अच्छा रहा, इस साल उनकी चार फ़िल्म आई जो सब बड़ी हिट हुई।[28] इस साल सबसे पहले विपुल अमृतलाल शाह निर्देशित नमस्ते लंदन आई जो हिट साबित हुई और उनके अभिनय की भी तारीफ हुई।[29] कैटरीना और अक्षय की जोड़ी की भी अपार प्रशंसा हुई।[30]

कैटरीना वैलकम के सेट पर अक्षय कुमार के साथ

इस साल उनकी अगली फ़िल्म अपने आई जिसमें वो सहायक भूमिका में थी, जिसमें धर्मेंद्र, सन्नी देओल, बॉबी देओल, किरन खेर और शिल्पा शेट्टी भी महत्त्वपूर्ण भूमिका में थे। अपने के बाद वो फिर से डेविड धवन निर्देशित पार्टनर में दिखी, जिसमें उनके साथ फ़िल्म में सलमान खान, गोविंदा और लारा दत्ता भी थे।[31] भारतीय रुपया१०० करोड़ के राजस्व के साथ फ़िल्म ब्लॉकबस्टर साबित हुई।[32][33] कैटरीना की साल की आखिरी फ़िल्म बहु अभिनीत वैलकम थी, जिसमें उनकी जोड़ी अक्षय कुमार के साथ बनाई गई थी और नाना पाटेकर, मल्लिका शेरावत, अनिल कपूर और परेश रावल भी प्रमुख भूमिकाओं में थे। फ़िल्म को मिली-जुली समीक्षाएँ मिली,[34] हालांकि ये कैटरीना की लगातार दूसरी ब्लॉकबस्टर बनी, दुनिया भर में भारतीय रुपया११६ करोड़ की कमाई के साथ।[32][33] इन फ़िल्मों के अच्छा प्रदर्शन करने के बावजूद, कैटरीना के द्वारा निभाए गए किरदारों को समीक्षकों ने अनदेखा कर दिया चूंकि समीक्षकों में आम धारणा ये थी कि इन फिल्मों में "महिलाओं के लिये कुछ करने को था नहीं" और कैटरीना अपनी (फ़िल्मी) उपस्थितियों में "एक चमक-दमक वाली से ज़्यादा कुछ नहीं थी"।[34][35]

साल 2008 में उनकी पहली फ़िल्म अब्बास-मस्तान की रेस थी जिसमें सैफ अली खान, अक्षय खन्ना, बिपाशा बसु, अनिल कपूर और समीरा रेड्डी भी थे। रेस हिट रही।[36] इस से कैटरीना की सफल फिल्मों की झड़ी जारी रही, हालांकि उनको अपने अभिनय के लिए मिश्रित समीक्षा मिली।[37] वो अगली बार अनीस बज़मी की सिंह इज़ किंग में नज़र आई, जिसमें उनकी जोड़ी फिर से अक्षय कुमार के साथ बनाई गई। दुनिया भर में भारतीय रुपया125 करोड़ की कमाई के साथ, फिल्म सुपर हिट घोषित की गई, इसी के साथ कैटरीना की लगातार छठी फ़िल्म टिकट खिड़की पर सफल रही।[33][36][38] उनकी साल की आखिरी फ़िल्म युवराज टिकट खिड़की पर बहुत बड़ी विफलता थी[36] और उनके अभिनय को मिली-जुली प्रतिक्रिया मिली।[39] समग्र रूप फ़िल्म को मिली मिश्रित समीक्षाओं के बावजूद, इसकी पटकथा को अपनी कलात्मक योग्यता के काराण अकादमी ऑफ मोशन पिक्चर आर्ट्स एंड साइंसेज के पुस्तकालय में जोड़ा गया।[40][41]

इस अवधि के दौरान, कैटरीना की आवाज़ अक्सर डबिंग कलाकारों द्वारा डब की जाती थी, क्योंकि वो हिंदी और अन्य भारतीयों भाषाओं में निपुण नहीं थी।[42] हालांकि कैटरीना इस चरण पर कई सफल फ़िल्मों की हिस्सा थी, पर फ़िल्म समीक्षकों ने ध्यान दिया कि उनके पास ज़्यादा कुछ करने को नहीं था चूंकि आम तौर पर उनकी फ़िल्में पुरुष केंद्रित थी।[43] साथ ही उन्हें अपने अभिनय कौशल के लिए ज्यादातर नकारात्मक समीक्षा मिली।[44][45]

न्यू यॉर्क और अधिक प्रमुख भूमिकाएं (2009-2011)

इन फ़िल्मों की श्रंखला के बाद जिनमें उन्हें महज उनकी ख़ूबसूरती के लिया गया था, कैटरीना द्वारा न्यू यॉर्क में निभाया गए किरदार ने उन्हें अभिनय स्तर पर पहचान दिलाई[46] फ़िल्म में जॉन अब्राहम, नील नितिन मुकेश और इरफ़ान ख़ान भी थे। कैटरीना के अभिनय और फ़िल्म दोनों को समीक्षकों ने सराहा और फ़िल्म भी व्यावसायिक रूप से सफल रही।[47][48][49] न्यू यॉर्क ने कैटरीना को फिल्मफेयर में सर्वश्रेष्ठ अभिनेत्री के लिए पहला नामांकन दिलाया।[50] उन्होनें ब्लू फ़िल्म में कैमियो भी किया।[51]

कैटरीना ऋतिक के साथ ज़िंदगी न मिलेगी दोबारा के घोषणा कार्यक्रम में

राजकुमार सन्तोषी की अजब प्रेम की ग़ज़ब कहानी उनकी अगली फ़िल्म थी जिसमें उनकी जोड़ी रणबीर कपूर के साथ बनाई गई थी। फ़िल्म सफल रही और कैटरीना के अभिनय को भी सराहा गया।[47][52] उनकी साल की आखिरी फ़िल्म प्रियदर्शन की बहु अभिनीत दे दना दन थी, जिसमें उनके साथ अक्षय कुमार, सुनील शेट्टी, परेश रावल, समीरा रेड्डी और नेहा धूपिया भी थे।[53]

2010 में प्रकाश झा की राजनीति उनकी पहली फ़िल्म थी। फ़िल्म, जिसमें उनके साथ रणबीर कपूर, अजय देवगन, अर्जुन रामपाल, नाना पाटेकर और मनोज बाजपेयी जैसे कलाकार थे, जिसकी कहानी महाभारत से प्रेरित थी। फ़िल्म और कैटरीना के अभिनय को अधिकतर सराहा गया।[54][55][56] भारतीय रुपया१४० करोड़ के संग्रह के साथ फ़िल्म ब्लॉकबस्टर बनी।[33][57] वो अक्षय कुमार के साथ फराह खान की फ़िल्म तीसमार खां में भी दिखी।[58] फ़िल्म को मिली भारी बुरी समीक्षाएँ और मीडिया में नकारात्मक धारणा के बावजूद, फ़िल्म टिकट खिड़की पर सफल रही।[57][59][60] कैटरीना के प्रदर्शन को सराहा नहीं गया पर उनके द्वारा किया गया आइटम नंबर शीला की जवानी की तारीफ हुई।[61][62]

२०११ में वो ऋतिक रोशन, फरहान अख्तर, अभय देयोल और कल्की केकलां के साथ ज़ोया अख्तर की ज़िंदगी न मिलेगी दोबारा में दिखी। फ़िल्म टिकट खिड़की पर हिट के रूप में उभरी, दुनिया भर में भारतीय रुपया153 करोड़ की कमाई के साथ।[33][63] समीक्षकों द्वारा फ़िल्म को सराहा गया[64] कैटरीना के अभिनय को भी सराहा गया।[65] जिंदगी न मिलेगी दोबारा वर्ष के सबसे सम्मानित फिल्मों में से एक थी और उसने प्रमुख भारतीय पुरस्कार समारोह में कई सर्वश्रेष्ठ फिल्म पुरस्कार प्राप्त किए।[66]

वो अगली बार यश राज फ़िल्म्स की मेरे ब्रदर की दुल्हन में दिखी इमरान ख़ान और अली जफर के साथ। कैटरीना के अभिनय और फ़िल्म दोनों को सराहा गया।[67] कैटरीना को सराहा गया फ़िल्म में एक नायिका केंद्रित भूमिका में दिखने के लिए और व्यापार विश्लेषकों ने फ़िल्म की सफलता के लिए प्रमुख कारण के रूप में कैफ को श्रेय दिया।[68][69] कैटरीना को अपने प्रदर्शन के लिए फिल्मफेयर में अपना दूसरा सर्वश्रेष्ठ अभिनेत्री के लिए नामांकन मिला।[70]

हाल के काम (2012 से अब तक)

Katrina Kaif is looking away from the camera
एक था टाइगर के पहले गाने, "माशाल्लाह" के लॉन्च में कैटरीना, 2012

2012 में, कैटरीना पहली बार अग्निपथ के लिए एक बेहद लोकप्रिय आइटम गीत चिकनी चमेली में दिखीं। दस दिनों तक फिल्माए गए इस गाने में उन्हें महाराष्ट्रीय लोक नृत्य, लावणी की शैली में नृत्य प्रदर्शन करते देखा गया। इस गाने के बारे में कैटरीना ने कहा: "चिकनी चमेली को सभी से बहुत अच्छी प्रतिक्रिया मिल रही है और इस गाने पर नाचने के लिए मैंने बड़ी मेहनत भी की है। मैंने पहले कभी लावणी नहीं की थी। ये गाना बहुत तेज़ था। लेकिन यही तो मेरे लिए चुनौती थी कि मैं इस गाने पर कितनी अच्छी तरह नाच पाती हूं"।[71][72] इसके बाद, उन्हें कबीर खान की जासूसी रोमांच फ़िल्म एक था टाइगर में देखा गया, जिसमें उन्होंने जोया नाम की एक आईएसआई एजेंट का किरदार निभाया जिसे एक भारतीय रॉ एजेंट के साथ प्यार हो जाता है। फिल्म को अधकतम सकारात्मक समीक्षा प्राप्त हुई, एवं कैफ के प्रदर्शन और एक्शन सीनों की सराहना की गई।[73][74] सलमान खान (उनके पूर्व प्रेमी) के साथ कैटरीना की जोड़ी ने कई अटकलों को तेज़ किया और फिल्म बॉक्स ऑफिस पर बेहद सफल रही; दुनिया भर में भारतीय रुपया311 करोड़ की कमाई के साथ, एक था टाइगर वर्ष की सर्वाधिक कमाई करने वाली फिल्म बन गई।[75][76][77]

उसी वर्ष, कैटरीना ने यश चोपड़ा की रोमांस फिल्म जब तक है जान में अभिनय किया, जिसमें उन्हें शाहरुख खान और अनुष्का शर्मा के साथ चित्रित किया गया। फिल्म में कैटरीना ने मीरा का किरदार निभाया, जो कि भगवान से दुआ करती है कि अगर उनका प्रेमी कोमा से बहार निकल आता है तो वह उसकी जिंगदी से हमेशा के लिए कहीं दूर चली जाएगी। इस फिल्म को ज्यादातर सकारात्मक समीक्षा प्राप्त हुई; फिल्म समीक्षक राजीव मसंद ने लिखा कि "इसकी स्क्रिप्ट में कमियों के बावजूद ये देखने लायक फिल्म है जो आपके अंदर के जज्बात बाहर ले आएगी"।[78][79] दूसरी ओर कैफ के प्रदर्शन की समीक्षा मिश्रित रही, बीबीसी के फिल्म समीक्षक अर्णब बनर्जी ने लिखा कि "कटरीना का नाच हो, उनकी फिटनेस या फिर उनका खूबसूरत चेहरा सब कमाल का है लेकिन जहां बात आती है किसी भावुक दृश्य की कटरीना वहीं मार खा जाती हैं"।[80][81] यह फिल्म बॉक्स ऑफिस पर हिट साबित हुई और दुनिया भर में भारतीय रुपया२११ करोड़ की कमाई की।[82]

2013 में, कैटरीना विजय कृष्ण आचार्य द्वारा निर्देशित एक्शन रोमांच फिल्म धूम 3 में आमिर खान, अभिषेक बच्चन और उदय चोपड़ा के साथ एक सर्कस कलाकार की भूमिका में नज़र आईं। फिल्म और कैटरीना की संक्षिप्त भूमिका ने मिश्रित समीक्षाएँ आकर्षित कीं। हालांकी, उनके हवाई करतबों और नृत्य कौशल की प्रशंसा की गयी।[83][84] विश्व भर में भारतीय रुपया५०० करोड़ से अधिक कमाई के साथ, यह फिल्म अब तक की सर्वाधिक कमाई करने वाली बॉलीवुड फिल्म है।[85][86] वो अगली बार 2014 में सिद्धार्थ आनन्द की बैंग बैंग में दिखी जो हॉलीवुड की नाइट एंड डे की रीमेक है।[87] कैटरीना ने एक बैंक रिसेप्शनिस्ट का किरदार निभाया जो एक रहस्यमय आदमी (ऋतिक रोशन) से प्यार कर बैठती है। फ़िल्म को और कैटरीना के अभिनय को नकारात्मक समीक्षा मिली।[88][89] फ़िल्म व्यावसायिक सफलता रही।[90] 2015 में उनकी इकलौती फिल्म फैंटम रही।

2016 में कैटरीना दो फिल्मों में दिखीं। पहले अभिषेक कपूर की फितूर में जो चार्ल्स डिकेंस के उपन्यास ग्रेट एक्स्पेक्टैशन पर आधारित थी। फिल्म में आदित्य रॉय कपूर और तबु भी थे।[91] बाद में बार बार देखो में वह सिद्धार्थ मल्होत्रा के साथ नज़र आई।[92] दोनों ही फिल्म सफल नहीं रही।[93] हिन्दुस्तान के विशाल ठाकुर ने लिखा: "बार बार देखो में कैटरीना कैफ लंबे समय बाद ताजगी के साथ दिखाई दी हैं। उन्हें देख ऐसा लगता है कि उनके सिर से मानो कोई बोझ उतर गया है। अपनी पिछली फिल्म 'फितूर' में वह बहुत सुस्त और ऊर्जाविहीन लग रही थीं, लेकिन इस फिल्म में उन्होंने न केवल अच्छा अभिनय किया है, बल्कि कई जगहों पर मजेदार ठुमके भी लगाए हैं।"[94]

वह वर्तमान में दो फ़िल्मी परियोजनाओं में काम कर रही हैं‌- अनुराग बसु की कॉमेडी रहस्य फ़िल्म जग्गा जासूस रणबीर कपूर के साथ[95] और टाइगर ज़िंदा है जिसमें वो फिर से ज़ोया का किरदार निभाएगी।[96]

निजी जीवन

रणबीर कपूर और कैटरीना कैफ अज़ब प्रेम की ग़जब कहानी की सफलता पार्टी पर।

कैटरीना का निजी जीवन मीडिया द्वारा व्यापक रिपोर्टिंग का विषय रहा है। वह अपने रूमानी जीवन के बारे में बात करने के लिए अनिच्छुक जानी जाती हैं, कहती हैं "मैं बहुत ही भावुक इंसान हूं और मेरे लिए रिश्ते शुरू से ही बेहद निजी रहे हैं, मुझे इसमें दूसरे लोगों की दखलअंदाजी बिल्कुल पसंद नहीं है। ऐसे में रिश्तों के उतार-चढ़ाव के बारे में हर बार मीडिया को स्पष्टीकरण देना मैं जरूरी नहीं समझती।"[97] सलमान ख़ान के साथ रिश्ते की अफवाहें पहले 2004 में उभरी,[98] हालांकि 2010 में उनके ब्रेकअप के बाद ही कैटरीना ने इस रिश्ते के बारे में कुछ बोला, कि यह उनका पहला गंभीर संबंध था।[99] ब्रेकअप के बावजूद, दोनों ने अपनी दोस्ती को बनाए रखा है और कैटरीना सलमान को आत्मविश्वास देने और उनका मार्गदर्शन करने का श्रेय देती हैं:[100]

"सलमान मेरा मार्गदर्शन करने के लिए हमेशा उपस्थित रहते थे क्योंकि मैं फिल्मोद्योग के विषय में कुछ नहीं जानती थी। सलमान शुरुआत से ही कहते थे कि मुझे इस उद्योग में सफलता मिलेगी और उनकी यह बात हमेशा मेरे दिमाग में रही।"[101]

ऐसा कहा गया कि यह ब्रेकअप का कारण अजब प्रेम की गज़ब कहानी की शूटिंग के दौरान रणबीर कपूर और कैटरीना की बढ़ती निकटता थी।[102] हालांकि, इसपर कैटरीना और रणबीर दोनों ने इनकार कर दिया था, पर उनके रिश्ते की प्रकृति बड़े पैमाने पर मीडिया द्वारा छानबीन की गई थी क्योंकि वह दोनों अलग अलग लोगों के प्रेम संबंध में शामिल थे।[103] अगस्त 2013 में, इबीसा में छुट्टियाँ मना रहे रणबीर और कैटरीना की अंतरंग तस्वीरें स्टारडस्ट द्वारा लीक किए गए; जिसे मीडिया ने उनके रिश्ते की पुष्टि के रूप में देखा।[104] इस लीक के बाद कैटरीना ने मीडिया को एक खुला पत्र भेजा, जिसमें उन्होनें कहा कि वो फिल्म पत्रिका में अपनी तस्वीरें छपने से बहुत "दुखी और हताश हैं" जो उनकी अनुमति के बिना ली गई।[105]

कार्यक्रमों में

फिल्मों में अभिनय के अलावा, कटरीना ने कई रंगमंच कार्यक्रमों में भी प्रदर्शन दिया है। 2008 में उन्होंने विभिन्न देशों में होने वाली संगीत श्रंखला टेम्पटेशन रीलोडेड 2008 में भाग लिया। रॉटरडैम, नीदरलैंड में आयोजित इस कार्यक्रम में अर्जुन रामपाल, करीना कपूर, शाहरुख खान, गणेश हेगड़े, जावेद अली और अनुषा दांडेकर ने भी भाग लिया था। कुछ महीनों के बाद उन्होंने वापिस शाहरुख़, करीना एवं अर्जुन के संग दुबई में स्थित फेस्टिवल सिटी एरीना में करीब 15,000 दर्शकों के सामने प्रदर्शन दिया।[106] इसके आलावा कटरीना ने पुरस्कार, पुलिस सम्मान, एवं संगीत समारोहों में अक्सर प्रदर्शन किया। मस्कट में आयोजित हुएटेम्पटेशन रीलोडेड के 2013 संस्करण में उन्होंने शाहरुख खान, अली जफर और प्रीति जिंटा के साथ प्रदर्शन किया। कैटरीना 2009 में जोहानसबर्ग के वांडरर्स क्रिकेट स्टेडियम में अंतरराष्ट्रीय रैपर एकॉन के साथ इंडियन प्रीमियर लीग के समापन समारोह में[107] और फिर 2013 में खेल के उद्घाटन समारोह में प्रदर्शन कर चुकी हैं।[108] कैटरीना ने उनके ऊपर फिल्माये गए गानों के ऊपर भी कई विभिन्न पुरस्कार समारोहों में प्रदर्शन किया हैं। 2006 में कैटरीना ने ग्लोबल इंडियन फिल्म अवार्ड में प्रदर्शन किया और दो साल बाद 2008 में वो रेस के गानों पर 9 वें अंतर्राष्ट्रीय भारतीय फ़िल्म अकादमी पुरस्कार पर नाची।[109][110] उन्होनें 2009 में 55 वें फ़िल्मफ़ेयर पुरस्कार और 2013 में ज़ी सिने पुरस्कार में भी प्रदर्शन किया था, दोनों मुम्बई में।[50][111]

मीडिया में

Katrina Kaif is looking away from the camera
कैटरीना ल'ओरल के एक उत्पाद लांच पर।

दैनिक जागरण के प्रकाशित एक लेख में छपा कि कैटरीना को हिन्दी न आने और विदेशी होने के कारण लगी अटकलों के बावजूद वो सफलता का दूसरा नाम बन गई है।[112] कैटरीना कैफ़ को समकालीन सबसे सफल अभिनेत्री में से एक माना जाता है।[113] अभिनय के लिए आलोचना के बावजूद वो लगातार सफल फ़िल्मों के कारण हिन्दी सिनेमा की सबसे सफल अभिनेत्रीयों में से एक है।[114] एक ट्रेड पत्रिका द्वारा किये गए सर्वेक्षण में कैटरीना को सफलतम अभिनेत्री कहा गया।[115] कैटरीना को मीडिया में अपने काम के प्रति समर्पण के लिए जाना जाता है।[116] अजब प्रेम की ग़जब कहानी के निर्देशक राजकुमार सन्तोषी ने कैटरीना के लिए कहा: "वे नंबर वन स्टार हैं, लेकिन सेट पर वे कोई नखरा नहीं दिखाती हैं। इतनी बड़ी स्टार होने के बावजूद सेट पर सभी तनावरहित महसूस करते हैं"। [116] कैटरीना की निखरती अभिनय क्षमता और हिंदी के साथ-साथ उनके द्वारा आइटम नम्बरों में किये गए नाँच की भी प्रशंसा हुई।[117][118]

कैटरीना को भारत में सबसे ज़्यादा मेहनताना पाने वाली अभिनेत्रीयों में से एक माना जाता हैं।[5] ऐसा अनुमानित किया गया हैं कि वो एक फ़िल्म के लिए 5.5-6 करोड़ लेती हैं और वो 2013 में कमाई के मामले में अभिनेत्रीयों में दूसरे पायदान पर रही।[119] फ़ोर्ब्स पत्रिका ने कैटरीना की कमाई 2012 में 65 करोड़ अनुमानित की हैं जिस हिसाब से वो हस्तियों में 12 वें पायदान पर रही।[120] 2013 की सूची में वो चोटी के 10 लोगों में अकेली महिला थी।[121] उन्हें पीपल विथ मनी नामक पत्रिका ने 2014 की दुनिया में सबसे ज़्यादा कमाई करने वाली अभिनेत्री घोषित किया हैं।[122]

कैटरीना को भारत में सबसे सुंदर हस्तियों में से एक माना जाता है — मीडिया में उनकी त्वचा, बाल एवं आकृति की अक्सर प्रशंसा होती है।[123][124] गूगल द्वारा जारी किये गए रिपोर्टों के अनुसार कटरीना भारत में सबसे लोकप्रिय बॉलीवुड हस्तियों में से एक रहीं हैं।[125][126][127] कैटरीना को ऍफ़एचएम पत्रिका द्वारा वर्ष 2008, 2009, 2011, 2012 और 2013 में "विश्व की सबसे सेक्सी महिला" नामित किया गया है;[128][129] एवं ब्रितानी पत्रिका इस्टर्न आई द्वारा वर्ष 2008 से लगातार चार बार "विश्व की सबसे सेक्सी एशियाई महिला" के रूप में वर्णित किया गया है।[130] वो पहली भारतीय हैं जिनकी अनुरूपंता के ऊपर बार्बी गुड़िया बनाई गई हैं।[131]

फिल्मों की सूची

इन्हें भी देखें